Sunday, July 31, 2022

Mass Deepa Pooja at Uttarakhosamangai

Mass deepa pooja was held on Sunday 31.7.2022 by Vivekanandakendra at the auspicious Mangalanayaki Udanurai Mangalanathar Temple in Uttarakhosamangai, Ramanathapuram district.  700 women participated from around 35 villages.

Earlier, bhajans, namavali, Balashevikas' dialogue "Hindus wake up from sleep" were held.

Kendra Volunteer Sankari delivered the welcome address. Vivekananda Kendra Akila Bharata Vice President Sri. Hanumantha Rao, Kendra Anbar BK Mani (Headmaster - Retired) and Mr. Ayyappan, Secretary VKRDP, attended and gave the blessings to the audience.District in-charge Mrs. Sakundala and Kendra Sisters, volunteers had made arrangements for this pooja.


Saturday, July 30, 2022

Kishori Vikasa Shibira - VKV Kallubalu

Namaste, on 30th and 31st of July, Kishori Vikasa Shibira- a workshop for girls, was organized at VKV Kallubalu by Karnataka Vibhaga. It was a train the trainer workshop also.

Organizing team     15

Elders ( sisters).      18

R T Nagar girls.        16

V K V girls.                 25

Alumni .V K V.            03

Inauguration session by Aa. Lalitha akka, 5 sessions on conceptual topics- I am the master of my mind, beauty, health, safety and social media, by resource persons, self defense technique, special yoga technique, Kendra yoga, bhajan sandhya, pratah smaran, prerana se punarutthan were included in this 2 days workshop. After every session, discussion was there regarding that topic. Prasanga natya- small play was enacted by the participants based on given topics. It was a very good experience.

Thursday, July 28, 2022

Free Medical Camps - Assam - Arunachal Pradesh

Free Medical Camps were organized in three flood affected villages in Assam & Arunachal Pradesh by Vivekananda Kendra Swasthya Seva Sadan, Tinsukia & Vivekananda Kendra Arun Jyoti, Arunachal Pradesh.

Medical Camps were conducted at Silghat Tarani Gaon of Sadiya, Assam (28th June 2022), Nepun Majgaon of Amarpur, Assam (14th July 2022) and Ahomchukgoan of Arunachal Pradesh(4th July 2022). This is to be mentioned that Nepun Majgaon village of Amarpur is a very remote island of mighty Dibang river & our team had to cross two rivers to reach this village. A total 307 patients were examined by our medical team and free medicines were given to the patients. The camps were supported by All Students Union, Sadiya Unit & All Lekang Youth & Students Union, Lekang Unit. Medicines were donated by Arogya Foundation of India, Mumbai.

This is to be mentioned that the Swasthya Seva Team of Vivekananda Kendra Arun Jyoti is conducting such medical camps in flood affected areas since 2012 in collaboration with local community based organizations and Student Unions. Our team has a plan to organize a few more camps in flood affected areas in the first week of August.  

Tuesday, July 26, 2022

Online Account Management Workshop - Rajasthan Prant

 बिना अतिश्योक्ति के अपने कार्य को बढ़ाना हमारा उत्तरदायित्व - श्री हार्दिक मेहता

विवेकानंद केंद्र कन्याकुमारी राजस्थान प्रान्त द्वारा प्रचार प्रसार विभाग के सुदृढ़ीकरण हेतु पांच दिवसीय वैबसाइट मैनेजमेण्ट, कार्यपत्रक प्रबंधन तथा ऑनलाईन अकाउण्ट मैनेजमेण्ट कार्यशाला का आयोजन दिनांक 26 जुलाई २०२२ से 30 जुलाई 2022 तक ऑनलाइन गूगल मीट पर किया गया। इस कार्यशाला में अजमेर विभाग, जयपुर विभाग, जोधपुर विभाग, भीलवाड़ा विभाग, उदयपुर विभाग व कोटा विभाग के कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। कार्यशाला में विभाग प्रमुख, नगर प्रमुख, नगर व्यवस्था प्रमुख, कार्यस्थान संयोजक व नगर अथवा कार्यस्थान की आईटी टोली के कार्यकर्ता अपेक्षित थे। कार्यशाला में कुल कार्यकर्ताओं की संख्या ३३ रही। कार्यशाला का उद्देश्य राजस्थान प्रान्त के कार्यकर्ताओं को केंद्र की गतिविधियों की रिपोर्टिंग के ऑनलाइन अपडेशन एवं अकाउंटिंग का प्रशिक्षण प्रदान करना था कार्यशाला का उद्घाटन प्रान्त प्रमुख श्री भगवान  सिंह जी ने किया एवं समापन सत्र को अखिल भारतीय आई टी प्रमुख श्री हार्दिक भैया ने सम्बोधित किया कार्यशाला में प्रान्त संघटक सुश्री प्रांजलि येरीकर, प्रान्त कार्यपद्धति प्रमुख डॉ स्वतंत्र शर्मा, राजस्थान वेबसाइट डेवलपर श्री कपिल खंडेलवाल तथा अजमेर विभाग सह प्रमुख श्री यादवराज कुमावत ने प्रशिक्षण प्रदान किया।

Sunday, July 24, 2022

Guru Purnima Matru Poojan - Jamshedpur

रविवार, 24 जुलाई  को गुरु पूर्णिमा के उत्सव मे जमशेदपुर  तुलसी भावन में,   अपराह्न 4 बजे से  "मात्रृ-पूजन" कार्यकर्म समपन हुवा , नो मातायें और अपने बच्चों के साथ भाग लियें। कुल 25 लोगों में 8 कार्यकर्ता और मुख्य अतिथि रामकृष्ण मिशन, जमशेदपुर से श्रद्धेय स्वामी करूनामयानंद महाराजजी रहें

Guru Purnima Celebration - Mysore

Dakshina Pranth, Vivekananda Kendra, Mysore. Gurupoornima celebration at 9 places. Nanjumalige 2 places: 124 people , Jayanagar - 5 places with 311. attendance, Vidyaranyapura - 113 attendance.



1008 Deepa Pooja - Sankarankovil-Nellai

1008 Deepa pooja was held on Sunday 24.7.2022 by Vivekananda Kendra at Arulmigu Gomathi Amman Sametha Sankaranarayanar temple at Sankarankovil, Nellai district.  1150 women participated from around 50 villages.

Earlier, Bhajan, Namavali, Balashevikas' dialogue "Hindus wake up from your sleep" and cultural prog by students of Sevalkulam religious class were held.

Sankarankovil Kendra In-charge Sri Sekar gave welcome address, Vivekananda Kendra Akila Bharata Vice President Sri. Hanumantha Rao, and Sri.Ayyappan, Secretary, VKRDP give their blessings. Vote of thanks by Kendra volunteer, Bharat Tuition Center Director Sri. Velmurugan .

District in-charge Sri Paramaguru, Sri.Sekar, Sankarankoil in-charge, Sri. Velmurugan and Kendra Sisters, Volunteers had made arrangements for this pooja.

Saturday, July 23, 2022

Guru Purnima - Bhagalpur




विवेकानन्द केन्द्र कन्याकुमारी, भागलपुर विभाग में 9 स्थान पर गुरुपूर्णिमा के कार्यक्रम आयोजित किए गए जिसकी उपस्थिति 386 रही।

 जिसमें भागलपुर नगर द्वारा 6स्थान पर कार्यक्रम सम्पन्न हुए, 2 कार्यक्रम मदनलाल माध्यमिक विद्यालय, एवं  करिश्मा कान्वेंट में गुरुपूजन कार्यक्रम आयोजित किए साथ ही चंपानगर,नीलकंठ नगर और ग्राम स्थान गौरीपुर द्वारा संस्कार में मातृपूजन कार्यक्रम हुए। मुख्य कार्यक्रम भागलपुर नगर द्वारा स्थानीय शीला विवाह भवन में आयोजित किया गया जिसमें मुख्य वक्ता डॉ. सोमेन कुमार चटर्जी (आर्थोपेडिक) जी ने गुरु के महत्व विषय पर प्रकाश डाला,डॉ कुमार सुनीत( सह नगर संचालक) जी ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की संचालन बिनीत कुमार सिन्हा कार्यालय प्रमुख द्वारा किया गया। इस कार्यक्रम सभी दायित्ववान कार्यकर्ता और शुभचिंतक उपस्थित रहे। इस दिन विशेष रूप से श्रीराम संकीर्तन समिति द्वारा सत्संग और कार्यक्रम भी किया गया।

कार्य स्थान बाँका, संपर्क स्थान पुर्णिया और मुंगेर में भी गुरुपूर्णिमा कार्यक्रम आयोजित किये गए।

Guru Purnima - Shimla

आज विवेकानंद केंद्र कन्याकुमारी शाखा शिमला द्वारा गुरु पूर्णिमा का तीसरा कार्यक्रम हिमाचल प्रदेश कॉलेज ऑफ एजुकेशन मैं किया गया. इस कॉलेज में 200 स्टूडेंट बीएड प्रशिक्षु प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं इस कार्यक्रम में सभी प्रशिक्षु तथा अध्यापक उपस्थित रहे साथ ही साथ इस गुरु पूर्णिमा के कार्यक्रम में माननीय निवेदिता दीदी के द्वारा गुरु पूर्णिमा पर जो पत्र भेजा गया था उसको पढ़ा गया. इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ललित जैन जी आईएएस 2011 हिमाचल कैडर है वर्तमान में वह हिमाचल प्रदेश साइंस एंड टेक्नोलॉजी विभाग के निदेशक के रूप में कार्य कर रहे हैं साथ ही साथ इस कार्यक्रम में एनवायरनमेंट साइंस विभाग के वैज्ञानिक डॉक्टर रवि शर्मा जी भी इस कार्यक्रम में उपस्थित रहे. इसके साथ कॉलेज प्रबंधन के साथ स्टडी सर्कल को लेते हुए बात हुई और जल्द ही शुरू करने वाले हैं.

Friday, July 22, 2022

Gurujan Sanman Samaroh - Jodhpur

 "शिक्षा का आधार प्रेम हो और अपने विद्यार्थियों को राष्ट्र से प्रेम करने की शिक्षा प्रदान करना यह शिक्षक का सर्वोत्तम ज्ञान दान होगा" - यह विचार विवेकानन्द केंद्र जोधपुर द्वारा आयोजित "गुरुजन सम्मान समारोह" के मुख्य वक्ता स्वामी समानन्द गिरिजीसंवित गंगायन प्रन्यास कनखल हरिद्वारने व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद ने उनकी प्रिय शिष्या भगिनी निवेदिता को – ‘भारत से प्रेम करो’ यही शिक्षा दी। यह जानकारी विवेकानंद केंद्र के नगर प्रमुख और कार्यक्रम के संचालक डॉ अमित व्यास ने दी।

कार्यक्रम के अध्यक्ष डॉ राम गोयलकमला नगर अस्पतालने सम्मानित शिक्षकों का अभिनंदन करते हुए शिक्षा को  वर्तमान व्यावसायिक स्वरूप से मुक्त कर परंपरागत सेवा भाव की ओर ले जाने का आवाहन किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रो. महेंद्र शर्माप्राचार्य आयुर्वेद शिक्षा और शोध संस्थान जोधपुर और विशिष्ट अतिथि डॉ. दशरथ सोलंकीवित्तीय सलाहकार एम बी एम विश्वविद्यालयने भी सम्मानित शिक्षकों को संबोधित किया। विवेकानंद केंद्र के विभाग संचालक चंद्रप्रकाश अरोरा भी मंचासीन थे। समारोह में जोधपुर के शिक्षण संस्थानों से चयनित 21 गुरुजनों को सम्मान पत्र एवं साहित्य भेंट कर उनके द्वारा की जा रही सार्थक समर्पित प्रेरक शिक्षा सेवा का संज्ञान लेते हुए 


गुरुजन सम्मान’ से विभूषित किया गया। सम्मानित गुरुजन – डॉ अविनाश बोहराडॉ दुर्गा सोनीडॉ शोभा बोहराडॉ हरीश व्यासआशा सिंह खींची,  डिम्पल गुप्ताडिम्पल पुरोहितदेवी बिजानीनीलम कपूरमानसी कपूररचना माथुरशीतल भाटीसुमन चौधरीहेमलता पुरोहितगिरिराज व्यासरमेश शर्मारोहित अरोरारोहित शर्मा और विजय कल्ला। पंडित नवरतन अग्निहोत्री और गिरीश माथुर को उनके अतिविशिष्ट सेवा हेतु विशेष सम्मानित किया गया। विवेकानंद केंद्र का परिचय जीवनव्रती दीपक खैरे और धन्यवाद ज्ञापन विभाग प्रमुख प्रेम रतन  सोतवाल ने किया। कार्यक्रम के सफल आयोजन में केंद्र कार्यकर्ता महेश बोहराश्याम  मालवीयपंकज व्यासगजेश भूतड़ा विनित कपूरजुगल किशोर अग्रवालप्रदीप माथुरगौरव शर्मामेहुल अरोरारवि गुप्ताराज भूतड़ाप्रिया अग्रवालअमिता बोहराआयुषी भूतड़ाअनमोल शर्माभगवान पँवारमनीषभरतमनीष चौहान,केशवगणेशलिछाराम,कामिनी अरोड़ाआकांक्षा कल्लादिव्याशा लिम्बाअनुराधा दीदीप्रकाश भाटी,अंबालालजीललित का विशेष सहयोग रहा।

Monday, July 18, 2022

Yuva Bharat Netrutva Shibir - Madhya Prant – Ujjain


विवेकानन्द केन्द्र कन्याकुमारी , मध्य प्रान्त द्वारा आयोजित युवा भारत नेतृत्व शिविर 2022 में आप सभी का स्वागत है । शिविट रिपोर्ट पढ़ते हुए अत्यंत हर्ष से सूचित करना चाहता हूँ कि शिविर में पूर्ण उत्साह व मनोयोग से सभी शिविटार्थियों ने सहभागिता निभाई और 3 दिवस पूर्ण कर आज समापन सत्र में उपस्थित है । शिविर सम्बन्धी रिपोर्ट आपके समक्ष प्रस्तुत है । प्रान्त समिति द्वारा अप्रैल 2022 माह में शिविर का नियोजन किया गया । प्रान्त स्तरीय विशेष टोली का गठन किया गया जिनकी शिविर पूर्व कुल 09 बैठकों का आयोजन किया गया । शिविर संचालन चमू नें मध्य प्रान्त के अंतर्गत ग्वालियर , भोपाल , इंदौर , जबलपुर और छत्तीसगढ़ विभाग के अंतर्गत नगर समितियों के माध्यम से पंजीयन कराए गए अंतिम शिविरार्थी सूची के अनुसार कुल 55 शिविरार्थी इस शिविर में सहभागी हुए , जिसमें विवेकानन्द केन्द्र के कार्यकर्ता , दायित्ववान कार्यकर्ता एवं जन अभियान परिषद् के सदस्य शामिल है । प्रान्त के 18 जिलों से शिविटार्थी शामिल रहे । । संचालन चमू के कुल 24 सदस्यों ने शिविर परिसर की व्यवस्था सहित अन्य कार्यों में सहयोग किया शिविर की गतिविधियाँ प्रथम दिवस : शिविटार्थियों के पंजीयन , गण विभाजन , उदघाटन सत्र केन्द्र वर्ग , भजन संध्या और प्रेरणा सत्र का आयोजन किया गया । उदघाटन सत्र में विभाग प्रमुख श्री धर्मेन्द्र विपट जी ने शिविर की अवधारणा को स्पष्ट किया । प्रान्त संचालक श्री मनोहर देव जी ने शिविटार्थियों , वक्ताओं और संचालन चमू सहित उपस्थित विद्वतजनों का शिविर में स्वागत किया । अतिथि वक्ता श्री धीर गौर दास जी ने अर्जुन जैसी निष्ठा व पराक्रम द्वारा सफल युवा , समर्थ भारत के लक्ष्य को पूर्ण करने हेतु शिविर के महत्त्व को रेखांकित किया । उज्जैन नगर निगम कमिश्नर श्री अंशुल गुप्ता जी ने एक अच्छे नागरिक गुणों के विकास हेतु स्वामी विवेकानन्द जी के विचारों को आत्मसात करने का जोर दिया । विवेकानन्द केन्द्र के अखिल भारतीय महासचिव माननीय भानुदास जी ने शिविर के महत्त्व व हमारी शिक्षण प्रेरणा को केन्द्र में रखकर सीखने के गुण विकसित करने का आह्वान किया

द्वितीय दिवस : द्वितीय दिवस प्रातःस्मरण , केन्द्र वर्ग के पश्चात् प्रथम सत्र का आयोजन हुआ । कर्मयोग हमारी प्रेरणा विषय पर केन्द्रित कर श्री ओ.पी. श्रीवास्तव , अपर सचिव मध्य प्रदेश शासन ने भगवदगीता के सन्दर्भ में कर्मयोग का वैज्ञानिक महत्त्व स्पष्ट किया । मंथन सत्र में शिविटार्थियों ने देश को नुकसान पहुचाने वाले नेरेटिव के विषय पर चर्चा की । डॉ . निशांत खरे जी ने विभिन्न पहलुओं पर राष्ट्रविरोधी नेरेटिव पर चर्चा की और विषय प्रबोधन किया । शिविटार्थियों नें जन्मदिवस व प्रार्थना का मंत्राभ्यास किया । प्रेरणा सत्र के दौरान इंदौर जिले के प्रसिद्ध व्यवसायी श्री प्रसाद व्यास जी के साथ प्रश्नोत्तरी संवाद कार्यक्रम किया गया जिसमें प्रान्त संगठन मुश्री रचना दीदी ने युवाओं के मन में व्यवसाय प्रारंभ करने , चुनौतियों के विषय पर उठने वाले प्रश्नों का समाधान किया । विवेकानन्द केन्द्र के अखिल भारतीय महासचिव माननीय भानुदास जी ने अध्यात्म प्रेरित सेवा विषय पर हम सभी का मार्गदर्शन किया । केन्द्र वर्ग के पश्चात् भजन संध्या का आयोजन किया गया । राष्ट्रीय स्तर पर विवेकानन्द केन्द्र के कार्यों व प्रकल्पों का विवरण श्री मनोज गुप्ता जी में प्रेरणा से पुनरोत्थान पीपीटी के माध्यम से दिया । तृतीय दिवस : तृतीय दिवस प्रातः स्मरण , केन्द्र वर्ग , श्रम संस्कार के पश्चात प्रथम सत्र का आयोजन हुआ । विभाग संचालक श्री विभास उपाध्याय जी ने अमृत परिवार की संकल्पना को मूर्त रूप देने में हमारे प्रयासों को रेखांकित किया । करणीय कार्यों पर विभागसह चर्चा सत्र आयोजित किया गया जिसमें शिविरार्थियों ने अपने अपने क्षेत्रों में जाकर कैसे सेवा कार्य को किया जाये , पर चिंतन किया । प्रान्त संगठक रचना जानी दीदी ने अपने कौशल , क्षमता और सामर्थ्य के अनुसार केन्द्र कार्यों में सहभागी बनने को प्रेरित किया । संस्कार वर्ग , आनंदालय संचालन , सोशल मीडिया कार्य , केन्द्र वर्ग और पूर्णकालिक सेवा कार्य जैसे विविध प्रकल्पों में सम्मिलित होने का आह्वान किया । समापन सत्र में मुख्य अतिथि श्री अखिलेश पाण्डेय , कुलपति - विक्रम विश्वविद्यालय , उज्जैन , श्री नितिन गरुड़ , डॉ . रश्मि कोलाढ़कर उपस्थित रहे । प्रान्त प्रमुख श्री भंवर सिंह राजपूत जी ने अतिथियों का अभिवादन करते हुए शिविर के महत्त्व को रेखांकित किया ।

Sunday, July 17, 2022

Guru Purnima Festival - Delhi Branch

The Delhi Branch of Vivekananda Kendra, Kanyakumari celebrated the Guru Purnima Festival on Sunday,17,2022 at its Chanakyapuri Center. Shri Nikhil Yadav, Prant Yuva Pramukh of Vivekananda Kendra, Uttar Prant, informed us that the concluding program of the week-long Gurupurnima Utsav celebration was organized on Sunday. Prof. Praveen K Verma, Director, R&D, JNU and Professor, School of Life Sciences, JNU, participated as the Chief guest.

The youth volunteers studying in different colleges of Delhi University shared their experiences. During the week-long campaign, they greeted their teachers on the college campuses and informed them about the Youth Program Young India: Know Thyself, through which they came closer to the Indian way of thinking.
Prof. Verma, during his speech, guided the students through valuable stories in which he emphasized the tradition of "Guru Shishya Parampara." The program was concluded with the prayer Sarve Bhavantu and Vivekananda Kendra Prarthana.

Another program was organized at the Community center, Railway Colony, Sarojini Nagar, in which Shri Manas Bhattacharjee, Prant Sangathank Vivekananda Kendra, Uttar Prant, interacted with the residents of the colony under the theme of Guru Purnima. Around 100 people were present at the event.

Wednesday, July 13, 2022

Guru Purnima - Vivekananda Kendra-Delhi Branch

The youth volunteers of the Delhi Branch of Vivekananda Kendra, Kanyakumari, are ready to celebrate a week-long Guru Purnima festive on the College Campuses. Shri Nikhil Yadav, Prant Yuva Pramukh of Vivekananda Kendra, Uttar Prant informed that the birth anniversary of Maharishi Veda Vyasa, a son of a Rishi Parashar and mata Satyawati, who was born on Ashadhi Purnima is commemorated as Gurupurnima.

This year Gurupurnima is on Wednesday, 13th of July, so we started the week-long celebration with an enlightening session this last Sunday in which Prof. Geeta Singh Ji, Director, CPDHE, UGC HRDC, University of Delhi, participated as a speaker. The session was held at our Chanakyapuri center, where 60 volunteers participated. Prof. Geeta Singh guided the volunteers and explained the importance of the Guru and why the place of Guru has always been considered paramount in India; with the word Guru comes a series of responsibilities and duties.

From Monday onwards, the youth volunteers will meet and wish their Principal and Professor in their college and congratulate them on "Guru Purnima" by presenting them with books and handicrafts by Vivekananda Kendra.

Guru Purnima - Patna

दिनांक 13 जुलाई 2022 (बुधवार) को विवेकानन्द केन्द्र शाखा-पटना द्वारा 'गुरु पूर्णिमासह 'मातृ पूजनकार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसके मुख्य अतिथि श्री अजीत मिश्रासहायक महाप्रबंधक (सेवानिवृत्त) एस.बी.आई. बैंक रहेंजिन्होंने बताया कि गुरु पूर्णिमा वेद व्यास के जन्मदिन के अवसर पर मनाया जाता है। वेद व्यास ने वेद की लिखित रचना की तथा भगवान श्री गणेश की प्रेणना से वेद को 18 पुराणों में बाँटा और एक लाख श्लोकों से महाभारत की रचना किया। वेद में सबकुछ निहित है जैसे गणितविज्ञानकलाज्ञान इत्यादि। भारत अपने ज्ञान के लिए दुनिया में विख्यात रहा हैयहाँ सबसे प्राचीन विश्व विद्यालय और अखंड ज्ञान ज्योति रही। नालंदाविक्रमशिला विश्वविद्यालय इसके जागृत उदाहरण है।

गुरुस्तोत्र के बाद बच्चों द्वारा अपने माताओं के विधिवत पूजन किया गया और माँ के महत्व को भी बताया गया और अपने पुरातन संस्कार से अवगत कराया गया। राजीव नगर से आएँ हुए सभी बच्चे प्रायः संस्कार वर्ग के विद्यार्थी थे जो अपनी माँ के साथ उपस्थित हुएँ। मातृपूजन के बाद 2-3 गुरु भजन भी गाया गया फिर पुष्पांजलि करते हुए एक सकारात्मक संकल्प बच्चों को दिलाया गया। शान्ति मन्त्र के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ तदोपरान्त प्रसाद वितरण आदि हुआ।

इस कार्यक्रम में प्रमुखत: दायित्ववान कार्यकर्ता सुधीर अम्बष्ठ प्रान्त प्रमुखज्ञानेश्वर शर्मा प्रान्त सह व्यवस्था प्रमुखशिखा सिंह परमार संचालकसुलेखा बहन कार्यपद्धति प्रमुख अन्य कार्यकर्ता रूपादीआदित्यभाईसुभाषिनी दीदीमंजूदीअरविन्द बाबू समेत 33 लोग उपस्थित रहें जिनके सहयोग से नगर स्तरीय यह कार्यक्रम सफल हुआ।


Guru Poornima Celebrations-VKV Kallubalu

The festival of Gurupurnima was celebrated in Vivekananda Kendra Vidyalaya, Kallubalu, on 13/07/2022. The Programme was started at 10:30 am, by Welcoming Our Guests Shri Davendra Soni Ji, Su. Shri Gita Priya Raman Ji, Su. Shri Mahalakshmi Ji & Chendilnath Ji. The Programme Started traditionally with Prayer, followed by Welcome Speech, Guru Bhajan, Drama and Dance by the students of Vidyalaya. Many activities were executed based on Guru, which highlighted the importance of the Guru in our lives. 
Celebrating this feeling of gratitude Our Vidyalaya felicitated our Karyakartas working in our Vidyalaya for their Continuous Service for more than 10 years in our organization. Also Encouraged and Motivated the students by distributing Prizes for various Competitions. Programme was ended with offering gratitude to the Guests, for their valuable time. 



Tuesday, July 12, 2022

विमर्श कार्यक्रम - गया

 विवेकानंद केंद्र कन्याकुमारी शाखा, गया के द्वारा स्थान धर्म सभा रमना मे प्रातः 6:30 से 8 बजे तक एक विमर्श कार्यक्रम किया गया।

कार्यक्रम का प्रारंभ तीन ओंकार शांति पाठ से किया गया। जिसमें शिथिलीकरण व्यायामआसनप्राणायामगीत आदि किया गया।

आज के मुख्य अतिथि  राष्ट्रीय कोषा अध्यक्ष माननीय प्रवीण दाभोलकर जी प्रांत अधिकारी माननीय मुकेश कीर माननीय सुधीर अम्बष्ट रहे।

प्रवीण दाभोलकर जी ने कहा कार्यपद्धती आयाम के चार प्रकार योग वर्ग ,  केंद्र वर्ग स्वाध्याय वर्गएवं संस्कार वर्ग को कैसे सुदृढ़ किया जाए एवं इसे कैसे  विस्तारित रूप दिया जाए। इन्होंने कहा किस तरह समाज मे संगठन काम करेगा

ऐसे दो आयाम स्वामी विवेकानंद जी ने हमारे सामने रखे थे। मनुष्य निर्माण के साथ ही साथ सेवा के माध्यम से इस राष्ट्र का पुनरुत्थान हो सेवा के लिए प्रस्तुत  होने के लिए मनुष्य निर्माण यह बहुत ही आवश्यक है। इन्होंने कहा अच्छे कार्यों के लिए लोगों को जोड़े। मैं और मेरा सीमित परिवार ही मेरा दायित्व नहीं है मैं इस समाज का राष्ट्र का इस संस्कृति का इस विश्व का अंग हूं ऐसा सोचना  यह तरीका है संगठन को संगठित करने का ।

कार्यक्रम का संचालन एवं शांति मंत्र बीना भदानी के द्वारा किया गया समापन  केंद्र प्रार्थना से वीणा गुप्ता ने किया। इस अवसर पर आनंद कुमारगणेश सेठरविंद्र कुमारमनीष कुमारराजेश कुमारविजय सेठ अंजना नवादिया सुनीता कंधवेगया के कई  कार्यकर्ता एवं शहर के प्रबुद्धजन उपस्थित थे।

Sunday, July 10, 2022

Amrita Parivar - Thiruvananthapuram

 Vivekananda Kendra, Kerala Vibhag, Thiruvananthapuram

As part of the Amrita Parivar -- On 10th July - 5th session of Lalita sahasranama.

Team of 3 members took the lead on conducting the class- Kum.Souparnika, Kum.Samaya, Shri.Vishnuji.

First 6 slokas were learnt by all and 5 slokas meaning was  discussed. Active participation and involvement of the participants makes the session a vibrant one.

Total Participation: 30 Families.

Youth Convention at Vivekananda Kendra - Delhi Branch

The Vivekananda Kendra, Delhi Branch, conducted its weekly youth convention this Sunday. Shri Nikhil Yadav, Prant Yuva Pramukh Vivekananda, Uttar Prant, informed that above 70 students from different colleges of Delhi University and Jawaharlal Nehru University participated. The regular activities include Vedic Chanting, Group Discussions, Presentations, and games, among others. We also got blessings from Shri PS Pathania Ji, Seh-Sanchalak of Vivekananda Kendra, Uttar Prant, and former registrar of Jammu University and the Central University of Jammu. Shri Pathania Ji interacted with the youth on the special occasion when we commemorated Swami Vivekananda's 120th Punyatithi. Pathania Ji, in his speech, emphasized the need to apply Swami Vivekananda in our daily lives and make ourselves that Yuva that Swamiji desired. A question-answer session also followed after his speech. 

Emergency First Aid Workshop - Jodhpur

विवेकानंद केंद्र जोधपुर में आज एक विशेष प्रशिक्षण कार्यशाला में प्रसिद्ध सीपीआर मैन प्रोफेसर डॉ राजेंद्र तातेड़ ने आपातकालीन प्रथमोपचार सीपीआर का प्रशिक्षण दिया। यह जानकारी देते हुए केंद्र के योग प्रमुख पंकज व्यास ने बताया कि इसमें प्रशिक्षित हृदयाघात और सांस रुकने की आकस्मिक स्थिति से ग्रस्त व्यक्तियों के लिए जीवन रक्षक हो सकते है।‌ अचानक ह्रदय गति रुकने से, श्वास रुकने से, दम घुटने से, पानी में डूबने इत्यादि आपातकालीन स्थिति में यह जीवन विद्या प्राणदायी हो सकती है आज की कार्यशाला में 65 सहभागीयों ने डमीज पर इसका व्यवहारिक प्रशिक्षण प्राप्त किया। सहभागी विनीत कपूर ने बताया कि इस प्रशिक्षण में उन्हें बहुत ही आवश्यक और उपयोगी जानकारी मिली। अनीता बोराना ने कहा कि प्रत्येक मां को यह प्रशिक्षण प्राप्त करना चाहिए, कब कहां इसकी आवश्यकता पड़े कोई बता नहीं सकता। आर्किटेक्ट नम्रता जैन ने कहा कि यह जीवन दानी प्रशिक्षण प्रत्येक नागरिक को प्राप्त करना चाहिए। जोधपुर विभाग प्रमुख प्रेम रतन सोतवाल जी ने शिला स्मारक का चित्र भेंट कर डॉ राजेंद्र तातेड़ का धन्यवाद ज्ञापन और सम्मान किया।